Connect with us

हिंदी व्याकरण

Kriya Visheshan Hindi Grammar – क्रिया विशेषण हिन्दी व्याकरण

Published

on

Kriya Visheshan Hindi Grammar

Today we are going to share one of the top topics in Hindi Grammar Kriya Visheshan. Some multiples blogs are sharing about Kriya Visheshan and its parts in-depth, but we are going to share Kriya Visheshan and its parts in video format, not text format. According to me, there are millions of students looking for Kriya Visheshan and its parts in a video format because of better understanding through video.

Kriya Visheshan ke bhed Hindi Grammar

क्रिया विशेषण हिन्दी व्याकरण

क्रिया विशेषण – वह शब्द जो हमें क्रियाओं की विशेषता का बोध कराते हैं वे शब्द क्रिया विशेषण कहलाते हैं।

अर्थ के आधार पर क्रिया विशेषण के भेद:

  1. कालवाचक क्रियाविशेषण: वो क्रियाविशेषण शब्द जो क्रिया के होने के समय के बारे में बताते हैं, कालवाचक क्रियाविशेषण कहलाते हैं।
  2. रीतिवाचक क्रियाविशेषण: ऐसे क्रियाविशेषण शब्द जो किसी क्रिया के होने की विधि या तरीके का बोध कराते हैं, वह शब्द रीतिवाचक क्रिया विशेषण कहलाते हैं।
  3. स्थानवाचक क्रियाविशेषण : ऐसे अविकारी शब्द जो हमें क्रियाओं के होने के स्थान का बोध कराते हैं, वे शब्द स्थानवाचक क्रियाविशेषण कहलाते हैं।
  4. परिमाणवाचक क्रियाविशेषण: ऐसे क्रियाविशेषण शब्द जिनसे हमें क्रिया के परिमाण, संख्या या मात्र का पता चलता है, वे शब्द परिमाणवाचक क्रियाविशेषण कहलाते हैं।

प्रयोग के आधार पर क्रियाविशेषण के भेद

  1. साधारण क्रियाविशेषण: ऐसे क्रियाविशेषण शब्द जिनका प्रयोग वाक्य में स्वतंत्र होता है, वे शब्द साधारण क्रियाविशेषण कहलाते हैं।
  2. सयोंजक क्रियाविशेषण: जिन क्रियाविशेषणों का सम्बन्ध किसी उपवाक्य से होता है , वह शब्द सयोंजक क्रियाविशेषण कहलाते हैं।
  3. अनुबद्ध क्रियाविशेषण: ऐसे शब्द जो निश्चय के लिए कहीं भी प्रयोग कर लिए जाते हैं वे शब्द अनुबद्ध क्रियाविशेषण कहलाते हैं।

रूप के आधार पर क्रियाविशेषण के भेद

  1. मूल क्रियाविशेषण: ऐसे शब्द जो दुसरे शब्दों के मेल से नहीं बनते यानी जो दुसरे शब्दों में प्रत्यय लगे बिना बन जाते हैं, वे शब्द मूल क्रियाविशेषण कहलाते हैं।
  2. स्थानीय क्रियाविशेषण: ऐसे अन्य शब्द-भेद जो बिना अपने रूप में बदलाव किये किसी विशेष स्थान पर आते हैं, वे स्थानीय क्रियाविशेषण कहलाते हैं।
  3. योगिक क्रियाविशेषण: ऐसे क्रियाविशेषण जो किसी दुसरे शब्दों में प्रत्यय या पद आदि लगाने से बनते हैं, ऐसे क्रियाविशेषण योगिक क्रियाविशेषणों की श्रेणी में आते हैं।

Kriya Visheshan Hindi Grammar Video

Now we are going to share Video for Kriya Visheshan Hindi vyakaran which helps you to clear all doubts regarding Kriya Visheshan, after watching Kriya Visheshan Hindi Grammar video. If you have any queries regarding Kriya Visheshan, Please let me know through comment. I am waiting for your comment. My expert team will be answers to your questions related to Kriya Visheshan Hindi Vyakaran.

Summary of Kriya Visheshan

Kriya Visheshan is a very important topic in Hindi Grammar for class 10, 9, 8, 7, 6, and 5. In this post, you can get better and sufficient information regarding Kriya Visheshan and Kriya Visheshan ke bhed. I would like to suggest you to watch the video of Kriya Visheshan Hindi Vyakaran.

I would like to invite you to subscribe to our channel which is based on education and which is offering Hindi Grammar, Maths, Science, Video for Kids and other subjects and Don’t forget to suggest our channel to someone who needs it: – http://bit.ly/2IaobbD.

Hindi Grammar Related Topics:

संज्ञा (Sangya) हिन्दी व्याकरण वचन (vachan) हिन्दी व्याकरण
कारक (karak) हिन्दी व्याकरण संधि (Sandhi) हिन्दी व्याकरण
क्रिया विशेषण (kriya visheshan) हिन्दी व्याकरण वाच्य (Vachya) हिन्दी व्याकरण
वर्णमाला (Varnmala) हिन्दी व्याकरण उपसर्ग (Upsarg) हिन्दी व्याकरण
वाक्य (vakya) हिन्दी व्याकरण काल (Kaal) हिन्दी व्याकरण
समास (Samas) हिन्दी व्याकरण क्रिया (kriya) हिन्दी व्याकरण
सर्वनाम (sarvanam) हिन्दी व्याकरण लिंग (Ling) हिन्दी व्याकरण

Continue Reading